Digital clock

Monday, May 24, 2010

कूल आइडिया ...कूल जुगाड़ ...

हाय गर्मी !

5 comments:

  1. वाह !
    बल्ले बल्ले ! !
    बढ़िया कार्टून ! ! !
    बधाई !

    ReplyDelete
  2. Nice ....wah...! kya drishti hai........... badhaee Mastan ji...

    ReplyDelete
  3. अरे भाई तुम तो बचपन से ही बहुत सुंदर चित्र बनाते हो ,इंटेलिजेंट तो हो ही ,और जबसे कार्टून्स बनाने लगे हो नजर और पैनी हो गई है.
    अब परा जब पचास के करीब पहुँच गया है तो तुम्हारे 'टोंस' का क्या कहना है,यह भी बता ही दो.
    अब इतनी गर्मी पडेगी तो .........
    छुट्टियाँ तो ऐसे ही बीतेगी,मेहमान भी तो इन छुट्टियों में ही आते हैं कैसे काहे कि पानी की लाइन में.........
    हा हा हा .
    वैसे विषय मैसम के अनुकूल है.
    जीते रहो जी

    ReplyDelete
  4. DIDI , AAP HAMARE BLOG PAR AAYE THANKS AND WELCOME .

    ReplyDelete
  5. वाह..वाह...अद्भुत है मस्तान की मस्ती....

    ReplyDelete