Digital clock

Wednesday, May 12, 2010

पार्ट टाइम टूर्नामेंट ! !

और ये आउट !!

4 comments:

  1. हा हा! सही!!


    एक विनम्र अपील:

    कृपया किसी के प्रति कोई गलत धारणा न बनायें.

    शायद लेखक की कुछ मजबूरियाँ होंगी, उन्हें क्षमा करते हुए अपने आसपास इस वजह से उठ रहे विवादों को नजर अंदाज कर निस्वार्थ हिन्दी की सेवा करते रहें, यही समय की मांग है.

    हिन्दी के प्रचार एवं प्रसार में आपका योगदान अनुकरणीय है, साधुवाद एवं अनेक शुभकामनाएँ.

    -समीर लाल ’समीर’

    ReplyDelete
  2. समीर लाल'समीर' जी की टिप्पणी किस संदर्भ मेँ है,समझ नहीँ आया!खैर!
    *आपका यह कार्टून भी हमेशा की तरह रोचक तथा तर्क संगत है। बधाई!

    ReplyDelete