Digital clock

Saturday, July 24, 2010

जगह जगह की बात ......

कहीं धूप तो कहीं छावं .......

8 comments:

  1. मुन्ना जब तक यहां ब्लैकमेलिंग की राजनीति चलती रहेगी...तुम्हारा पेट खाली ही रहेगा.

    ReplyDelete
  2. पेट में जगह ही जगह- क्या खूब कहा है! वाह, मस्तान जी वाह!

    ReplyDelete
  3. बहुत सटीक व्यंग्य. वैसे अगर इनका पेट भर गया तो फिर पंवार चुनाव के दौरान कौनसे सब्ज बाग दिखाकर वोट मांगेगे इसलिए अनाज चाहे कम पड़े या सड़े इन वोट बैंको को तो खाली पेट ही रहना पड़ेगा.

    ReplyDelete